Surah Yaseen in hindi

Surah Yaseen in hindi

दोस्तों कुरान को अरबी में पढ़ने से जो सुकून हासिल होता है जो बात होती है वह हिंदी में पढ़ने से नहीं होती लेकिन जो भाई कुरान नहीं पढ़ पाए, पढ़ने का मौका नहीं मिला उनके लिए आज इस पोस्ट में हम सुरह यासीन को हिंदी टेस्ट में लेकर आए हुए हैं ताकि वो भाई भी Surah Yaseen hindi me पढ़ कर सवाब से महरूम ना हों।सूरह यासीन की बहुत बड़ी फजीलत हदीसों में आई हुई है हम सबको सूरह यासीन शरीफ की तिलावत करनी चाहिए तो आज जो भाई अरबी में सूरह यासीन नहीं पढ़ सकते उनके लिए आज इस टॉपिक में Surah Yaseen in hindi language में पढ़ सकेंगे और साथ ही साथ इसकी कुछ फजीलत भी हम जानेंगे।

Surah yasin ki Fazilat

हजरत अबी रबाह (ताबई) फर्माते हैं कि मुझे यह हदीस पहुंची के अल्लाह के रसूल सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने इरशाद फरमाया कि जिसने दिन के शुरू के हिस्से में सूरह यासीन शरीफ पढ़ ली उसकी हाजतें पूरी होकर दी जाएंगी (मिश्कात शरीफ)

एक और हदीस में है कि आप सर अल्लाह वाले वसल्लम ने फरमाया कि जिसने सूरह यासीन अल्लाह की रजा की नियत से पड़ी इसके पिछले गुनाह माफ हो जाएंगे लिहाजा तुम इसे अपने मोती के पास पढ़ा करो (यानी जिसके मौत का वक्त करीब हो) उसके पास बैठकर पढ़ो

हजरत अनस रजि अल्लाह ताला अनहू से रिवायत है कि रसूल अकरम सल्लल्लाहो अलैहि वसल्लम ने इरशाद फरमाया हर चीज का एक दिल होता है और कुरान ए करीम का दिल Surah Yaseen है जिसने सूरह यासीन एक मर्तबा पढ़ी अल्लाह उसको पढ़ने की वजह से इसके लिए 10 मर्तबा पूरा कुरान शरीफ पढ़ने का सवाब लिख देगा (मिस्कत शरीफ)

Surah Yaseen in hindi

1- यासीन

2- वल कुर आनिल हकीम

3- इन्नका लमिनल मुरसलीन

4- अला सिरातिम मुस्तकीम

5- तनजीलल अजीज़िर रहीम

6-लितुन ज़िरा कौमम मा उनज़िरा आबाउहुम फहुम गाफिलून

7- लकद हक कल कौलु अला अकसरिहिम फहुम ला युअमिनून

8- इन्ना ज अलना फी अअना किहिम अगलालन फहिया इलल अजकानि फहुम मुकमहून

9- व जअल्ना मिम बैनि ऐदी हिम सद्दव वमिन खलफिहिम सद्दन फ अग शयनाहुम फहुम ला युबसिरून

10- वसवाउन अलैहिम अअनजर तहुम अम लम तुनजिरहुम ला युअमिनून

11- इन्नमा तुन्ज़िरू मनित तब अर ज़िकरा व खाशियर रहमान बिल्गैब फबश्शिर हु बिमग फिरतिव व अजरुन करीम

12- इन्ना नहनू नुहयिलल मौता वनकतुबु मा क़द्दमु व आसाराहुम वकुल्ला शयइन अहसयनाहु फी इमामिम मुबीन

13- वज़ रिब लहुम मसलन असहाबल करयह इज़ जा अहल मुरसळून

14- इज़ अरसलना इलयहिमुस नैनी फकज जबूहुमा फ अज़्ज़ज़ना बिसा लिसिन फकालू इन्ना इलयकुम मुरसळून

15- कालू मा अन्तुम इल्ला बशरुम मिसळूना वमा अनजलर रहमानु मिन शय इन इन अन्तुम इल्ला तकज़िबुन

16- क़ालू रब्बुना यअलमु इन्ना इलयकुम लमुरसळून

17- वमा अलैना इल्लल बलागुल मुबीन

18- कालू इन्ना ततैयरना बिकुम लइल लम तनतहूँ लनरजु मन्नकूम वला यमस सन्नकुम मिन्ना अज़ाबुन अलीम

19- कालू ताइरुकुम म अकुम अइन ज़ुक्किरतुम बल अन्तुम क़ौमूम मुस रिफून

20- व जा अमिन अक्सल मदीनति रजुलुय यसआ काला या कौमित त्तबिउल मुरसलीन

21- इत तबिऊ मल ला यस अलुकुम अजरौ वहुम मुहतदून

22- वमालिया ला अअबुदुल लज़ी फतरनी व इलैहि तुरजऊन

23- अ अत्तखीज़ु मिन दुनिही आलिहतन इय युरिदनिर रहमानु बिजुर रिल ला तुगनी अन्नी शफ़ा अतुहुम शय अव वला यूनकिजून

24- इन्नी इज़ल लफी ज़लालिम मुबीन

25- इन्नी आमन्तु बिरब बिकुम फसमऊन

26- कीलद खुलिल जन्नह काल यालयत क़ौमिय यअलमून

27- बिमा गफरली रब्बी व जअलनी मिनल मुकरमीन

28- वमा अन्ज़लना अला क़ौमिही मिन बअ दिही मिन जुन्दिम मिनस समाइ वमा कुन्ना मुनजलीन

29- इन कानत इल्ला सैहतौ वाहिदतन फ इज़ा हुम् खामिदून

30- या हसरतन अलल इबाद मा यअ तीहिम मिर रसूलिन इल्ला कानू बिहा यस तहज़िउन

31- अलम यरव कम अह्लकना क़ब्लहुम मिनल कुरूनी अन्नहुम इलय्हीम ला यर जिउन

32- वइन कुल्लुल लम्मा जमीउल लदेना मुह्ज़रून

33- व आयतुल लहुमूल अरज़ुल मयतह अह ययनाहा व अखरजना मिन्हा हब्बन फमिनहु यअ कुलून

34- व ज अलना फीहा जन्नातिम मिन नखीलिव व अअनाबिव व फज्जरना फीहा मिनल उयून

35- लियअ कुलु मिन समरिही वमा अमिलत हु अयदी हिम अफला यशकुरून

36- सुब्हानल लज़ी ख़लक़ल अज़वाज कुल्लहा मिममा तुमबितुल अरज़ू वमिन अनफूसिहिम वमिम मा ला यअलमून

37- व आयतुल लहुमूल लैल नसलखु मिन्हुन नहारा फइज़ा हुम् मुजलिमून

38- वश शमसु तजरी लिमुस्त कररिल लहा ज़ालिका तक़्दी रूल अज़ीज़िल अलीम

39- वल कमर कद्दरनाहु मनाज़िला हत्ता आद कल उरजुनिल क़दीम

40- लश शम्सु यमबगी लहा अन तुद रिकल कमरा वलल लैलु साबिकुन नहार वकुल्लुन फी फलकिय यसबहून

41- व आयतुल लहुम अन्ना हमलना ज़ुररिय यतहूम फिल फुल्किल मशहून

42- व खलकना लहुम मिम मिस्लिही मा यरकबून

43- व इन नशअ नुगरिक हुम फला सरीखा लहुम वाला हुम युन्क़जून

44- इल्ला रह्मतम मिन्ना व मताअन इलाहीन

45- व इजा कीला लहुमुत तकू मा बैना ऐदीकुम वमा खल्फकुम ला अल्लकुम तुरहमून

46- वमा तअ तीहिम मिन आयतिम मिन आयाति रब्बिहिम इल्ला कानू अन्हा मुअ रिजीन

47- व इज़ा कीला लहुम अन्फिकू मिम्मा रजका कुमुल लाहू कालल लज़ीना कफरू लिल लज़ीना आमनू अनुत इमू मल लौ यशाऊल लाहू अत अमह इन अन्तुम इल्ला फ़ी ज़लालिम मुबीन

48- व यकूलूना मता हाज़ल व अदू इन कुनतुम सादिक़ीन

49- मा यन ज़ुरूना इल्ला सयहतव वहिदतन तअ खुज़ुहुम वहुम याखिस सिमून

50- फला यस्ता तीऊना तव सियतव वला इला अहलिहीम यरजिऊन

51- व नुफ़िखा फिस सूरि फ़इज़ा हुम मिनल अज्दासी इला रब्बिहीम यन्सिलून

52- कालू या वय्लना मम ब असना मिम मरक़दिना हाज़ा मा व अदर रहमानु व सदकल मुरसलून

53- इन कानत इल्ला सयहतव वहिदतन फ़ इज़ा हुम जमीउल लदयना मुहज़रून

54- फल यौम ला तुज्लमू नफ्सून शय अव वला तुज्ज़व्ना इल्ला बिमा कुंतुम तालमून

55- इन्ना अस हाबल जन्न्तिल यौमा फ़ी शुगुलिन फाकिहून

56- हुम व अज्वा जुहूम फ़ी ज़िलालिन अलल अरा इकि मुत्तकिऊन

57- लहुम फ़ीहा फाकिहतुव वलहुम मा यद् द ऊन

58- सलामुन कौलम मिर रब्बिर रहीम

59- वम ताज़ुल यौमा अय्युहल मुजरिमून

60- अलम अ अहद इल्य्कुम या बनी आदम अल्ला तअ बुदुश शैतान इन्नहू लकुम अद्व्वुम मुबीन

61- व अनि अ बुदूनी हज़ा सिरातुम मुस्तक़ीम

62- व लक़द अज़ल्ला मिन्कुम जिबिल्लन कसीरा अफलम तकूनू ता किलून

63- हज़िही जहन्नमुल लती कुन्तुम तू अदून

64- इस्लौहल यौमा बिमा कुन्तुम तक्फुरून

65- अल यौमा नाख्तिमु अल अफ्वा हिहिम व तुकल लिमुना अयदीहीम व तश हदू अरजू लुहुम बिमा कानू यक्सिबून

66- व लौ नशाउ लत मसना अला अ अयुनिहीम फ़स तबकुस सिराता फ अन्ना युबसिरून

67- व लौ नशाउ ल मसखना हुम अला मका नतिहिम फमस तताऊ मुजिय यौ वला यर जिऊन

68- वमन नुअमिर हु नुनक किस हु फिल खल्क अफला या किलून

69- वमा अल्लम नाहुश शिअरा वमा यम्बगी लह इन हुवा इल्ला जिक रुव वकुर आनुम मुबीन

70- लियुन जिरा मन काना हय्यव व यहिक कल कौ लु अलल काफ़िरीन

71- अव लम यरव अन्ना खलक्ना लहुम मिम्मा अमिलत अय्दीना अन आमन फहुम लहा मालिकून

72- व ज़ल लल नाहा लहुम फ मिन्हा रकू बुहुम व मिन्हा यअ कुलून

73- व लहुम फ़ीहा मनफ़िउ व मशारिबु अफला यश्कुरून

74- वत तखजू मिन दूनिल लाहि आ लिहतल ला अल्लहुम युन्सरून

75- ला यस्ता तीऊना नस्र हुम वहुम लहुम जुन्दुम मुह्ज़रून फला यह्ज़ुन्का क़व्लुहुम इन्ना न अलमु मा युसिर रूना वमा युअलिनून

76- अव लम यरल इंसानु अन्ना खलक्नाहू मिन नुत्फ़ तिन फ़ इज़ा हुवा खासीमुम मुबीन

77- व ज़रबा लना मसलव व नसिया खल्कह काला मय युहयिल इजामा व हिय रमीम

78- कुल युहयीहल लज़ी अनश अहा अव्वला मर्रह वहुवा बिकुलली खल किन अलीम

79- अल्लज़ी जअला लकुम मिनश शजरिल अख्ज़रि नारन फ़ इज़ा अन्तुम मिन्हु तूकिदून

80- अवा लैसल लज़ी खलक़स समावाती वल अरज़ा बिका दिरिन अला य यख्लुका मिस्लहुम बला वहुवल खल्लाकुल अलीम

81- इन्नमा अमरुहू इज़ा अरादा शय अन अय यकूला लहू कुन फयकून

82- फसुब हानल लज़ी बियदिही मलकूतु कुल्ली शय इव व इलैही तुरजउन।

सूरह यासीन को पढ़कर आपके दिल में सुकून हासिल हुआ होगा बेशक !अल्लाह के जिक्र से कुरान की तिलावत करने से दिलों को सुकून नसीब होता है।

Leave a Comment